करीमुद्दीनपुर (विकास राय): गाजीपुर जनपद के करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के महेन्द गांव में सफाई के अभाव में नालियां जाम हो गयी थी.जगह जगह घांस फूस से रास्ते पटे थे।एस के नेशनल कान्वेंट स्कूल महेन्द के प्रबन्धक अब्दुल कादिर खान ने जब देखा तो खुद स्वच्छता का वीणा अपने कंधे पर लेते हुवे पहले गांव की जाम नाली की सफाई के साथ साथ घास फूस की सफाई करायी।

उसके बाद कोरोना वायरस के कारण लाक डाउन में गांव की नालीयों से किटाणु एवं दुर्गंध की समाप्ति के लिए पूरे गांव में फिनायल का स्प्रे एवं जगह जगह जहां गंदे पानी का ठहराव है वहां ब्लिचिंग का छिडकाव अपनी देख रेख में शुरू कराया है।अब्दुल कादिर खान ने कहा की इस समय बराबर शासन प्रशासन के लोगों का लाक डाउन में महेन्द में आना जाना लगा है।

लोग दुर्गंध के कारण नाक बंद करने पर विवश थे।इस लिए मैने निश्चय किया की मै ग्राम सभा महेन्द में नाली की सफाई. एवं फिनायल.ब्लिचिंग एवं सेनेटाईजर का छिडकाव कराउंगा।स्वच्छता अभियान के तहत मैने यह कार्य प्रारम्भ करा दिया है।गर्मी के मौसम में जब तेज धूप होती है तो जमे गंदा पानी में गैस बनती है और उससे बदबू के साथ बिभिन्न रोग फैलाने वाले किटाणुओं की पैदाइश भी होती है।

भांवरकोल ब्लाक के इस गांव में सफाई कर्मी कभी नहीं दिखते है।अगर सफाई कर्मी यहां आते तो यह स्थिति नहीं रहती।अब्दुल कादिर खान ने कहा की लाक डाउन की समाप्ति के बाद मै गाजीपुर जिलाधिकारी एवं जिलापंचायत राज अधिकारी से इस सन्दर्भ में मिलूंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here