देश राजनीति

अच्छा अभिनेता वही जो हर जगह से अपनी बात कह सके: रीता गांगुली

 

नई दिल्ली। मलिका-ए-गजल बेगम अख्तर की शिष्या एवं प्रसिद्ध रंगकर्मी तथा गायिका रीता गांगुली ने शनिवार को कहा कि अच्छा अभिनेता वही है जो कहीं से भी अपनी बात कह सके। गांगुली ने यहां राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) द्वारा आयोजित भारत रंग महोत्सव के 21वें संस्करण का उद्घाटन करते हुए यह बात

उन्होंने कहा, “ मैं यहां इस मौके पर शामिल होकर सम्मानित महसूस कर रही हूं। थिएटर नाट्य का एक महत्वपूर्ण अंग है। एक सफल अभिनेता वही है जो कहीं भी लोगों तक अपनी बात पहुंचा सके। एक अच्छा अभिनेता वही है जो लाइट, मंच और स्क्रिप्ट के बिना दर्शकों तक अपनी बात पहंचाने में कामयाब रहे।”

गांगुली ने कहा,“ हमारे देश में 10वीं क्लास के बाद कुछ सिखाया नहीं जाता। इसके बाद विद्यार्थी अपने आप सब सीख जाता है। एक अभिनेता का सिर से लेकर पैर तक अपने ऊपर नियंत्रण होना बहुत आवश्यक है। मैंने एनए डी के विद्यार्थियों को समय की पाबंदी की जरूरत सिखाई है जो जीवन में सफलता हासिल करने के लिए बहुत जरूरी है।”

इस अवसर पर एनएसडी के निदेशक सुरेश शर्मा ने कहा,“ मैं इस समारोह में शामिल होने के लिए गांगुली और आप सभी लोगों का अभिनंदन करता हूं। इस महोत्सव में पिछले 20 वर्षों में देश विदेश के नाटकों का प्रदर्शन किया गया है। रंगमंच में इस महोत्सव का योगदान अनूठा है। इस वर्ष यह महोत्सव दिल्ली के अलावा देहरादून, शिलांग और नागपुर में भी आयोजित किया जाएगा।” रंग महोत्सव में 91 देशी और 10 विदेशी नाटकों का मंचन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *