नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत आज रिटायर हो गए हैं। उनकी जगह अब जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने सेना प्रमुख का कार्यभार संभाल लिया है। लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवाने 31 दिसंबर को देश के 28वें आर्मी चीफ का कार्यभार ग्रहण करेंगे। देश के पहले CDS बनने जा रहे है जनरल बिपिन रावत को आज साउथ ब्लॉक में ‘गॉर्ड ऑफ ऑनर’ दिया गया है। बिपिन रावत नए साल में देश के पहले Chief of Defence Staff का पद संभालेंगे।

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए नरवाने ने कहा कि अनुच्छेद 370 के निरस्त होने से घाटी में आतंकवादी-संबंधी घटनाओं में कमी आई है। यह रेखांकित करते हुए कि पाकिस्तान आतंकवाद का उपयोग स्टेट पॉलिसी के एक टूल के रूप में कर रहा है, नरवणे ने कहा कि यह लंबे समय तक नहीं चल सकता है। नरवणे ने कहा कि वे सफल नहीं होंगे।

सीजफायर उल्लंघन हुए हैं। एलओसी के पार लॉन्चिंग पैड्स में आतंकवादी इंतजार कर रहे हैं। लेकिन हम किसी भी घटना से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। गौरतलब हैं की केंद्र ने बड़ा फैसला लेते हुए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को देश के पहले देश के पहले CDS बनाने की घोषणा की हैं। सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत को देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनाया गया है। केंद्र सरकार ने रविवार को ही सीडीएस के पद के लिए उम्र की सीमा बढ़ाई है। जानकारी के लिए आपको बता दें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) एक ऐसा पद है, जिसपर रहने वाला अफसर तीनों सेनाओं का प्रमुख होगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here