रिपोर्ट- अंकित सिंह
ग़ाज़ीपुर। सुहवल क्षेत्र के युवराजपुर गावं मे 13 नवम्बर से 21 नवम्बर तक चलने वाला सात दिवसीय 21 कुंडीय विष्णु महायज्ञ का भव्य शुभारंभ अयोध्या से आए संत श्री-श्री 108 श्री राममिलन दास जी महराज ने वैदिकमंत्रोचार से किया ।इस दौरान मानस कथा का भी आयोजन किया गया है जो 14 नवम्बर की शाम से तीन बजे से सुनिश्चित है । जबकि इस यज्ञ की पूर्णाहुति एवं भंडारा 21 नवम्बर को होना है ।

संत श्री-श्री 108 श्री राममिलन दास जी महराज के नेतृत्व में आए तीर्थ पुरोहितों ने पूरे वैदिक मंत्रोचार के जरिए कन्या पूजन, गजराज पूजन, मंदिर परिक्रमा के उपरांत भारी संख्या में महिला पुरुष श्रद्धालुओं ने हाथ में कलश ले पूरे गाँव का भ्रमण करते हुए गंगा तट पहुँच वहाँ गंगा पूजनोत्सव के उपरांत जलभरी करने के बाद पुन: जयकारे के साथ मुख्य मार्ग होते हुए पूरे गाँव का भ्रमण कर पुन: यज्ञ स्थल पर पहुंचे ।जहां मंडप पूजन के बाद बेदी पूजन व द्वार पूजन किया गया ,बाद कलश की स्थापना हुई ।इस दौरान श्रद्धालु जयकारे लगाते रहे ।ध्वनि विस्तारक यंत्रों के जरिये संगीत मय धून के चलते पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया, इस कलश यात्रा में हाथी, घोडा, गाजा बाजा साथ में चल रहे थे।

इस मौके पर प्रमुख रूप से युवा समाजसेवी चंदन सिंंह,पूर्व प्रधान रवींद्रनाथ सिंह, हीरा सिंह ,महेंद्र सिंह, चंदन सिंह,शैलेंद्र सिंह, शिवाजीत सिंह, कप्तान सिंह, मगला सिंह, शिव मुरत सिंह, , राहुल सिंह, विपुल सिंह, रोशन सिंह, अनुज सिंह, बबुका तिवारी, अमित सिंह आदि भारी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here