30 बिंदुओं में अयोध्या अयोध्या जन्मभूमि विवाद इत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश खास खबर ताजातरीन देश पूरा विवरण फैज़ाबाद राजनीति राज्य रामलला विवाद वक़्फ़ बोर्ड

अयोध्या जन्मभूमि विवाद पर यहां पढ़ें 30 बिंदुओं में पूरा फैसला

राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो चुका है। मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने फैसले का सम्मान और स्वागत किया है। विवादित जमीन को रामजन्मभूमि न्यास को दिया गया। जो 2.77 एकड़ है । वहीं सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को 5 एकड़ जमीन अयोध्या में ही देने का सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया। वहीं आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस फैसले से असहमति जता दी है और कहा है कि हैम पहले पूरे फैसले को पढ़ेंगे उसके बाद ही इसपर कोई निर्णय लेंगे।

आइये 30 महत्वपूर्ण बिंदुओं में देखते है सप्तम5 कपुरत का पूरा फैसला।
1. सुप्रीम कोर्ट ने शिया वक़्फ़ बोर्ड की याचिका खारिज कर दी।
2. बाबर के समय मे मीर बाकी ने मस्जिद बनाई थी।
3. 22-23 दिसंबर 1949 को मस्जिद में मूर्तियां रखी गयीं।
4. सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़ा के दावे को खारिज कर दिया।
5. सुप्रीम कोर्ट ने कहा ASI रिपोर्ट को नकार नहीं सकते।
6. सुप्रीम कोर्ट ने कहा रामलला कोई वैधानिक पक्षकार नहीं हैं।
7. ASI की रिपोर्ट के अनुसार वहां कोई इस्लामिक स्ट्रक्चर नहीं था।
8. लेकिन बाबरी मस्जिद खाली जगह पर नहीं बनी।
9. सुप्रीम कोर्ट के अनुसार वहां पहले मंदिर था।
10. ASI की रिपोर्ट के अनुसार 12वीं सदी में वहां मंदिर था।
11. भगवान राम अयोध्या में जन्मे थे यह desputed नहीं है।
12. लेकिन ASI ने मंदिर के बारे में पूर्णतः स्पष्ट नहीं कहा है।
13. सुप्रीम कोर्ट ने कहा सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को दावा करने का अधिकार नहीं है।
14. सुप्रीम कोर्ट के अनुसार ASI की रिपोर्ट में 12 वीं से 16वीं सदी में क्या था स्पष्ट नहीं है।
15. ढांचा का होना मालिकाना हक जमाना नहीं हो सकता -सुप्रीम कोर्ट।
16. मुस्लिम पक्ष के पास जमीन पर विशेष कब्जा नहीं था।
17. मुस्लिम जमीन पर एकाधिकार साबित नहीं कर पाए।
18. ढांचा गिराना कानून का उलंघन था।
19. 16 वीं सदी तक नमाज अदा करने के कोई सबूत नहीं थे।
20. हिन्दू सीता रसोई में पूजा करते थे।
21. रेलिंग लगाना संघर्ष और विवाद का सबूत है।
22. 1885 से हिन्दू चबूतरे पर ही पूजा करते थे।
23. दिसंबर 1949 तक मुस्लिम नमाज पढ़ते थे
24. मुस्लिमों को बैकल्पिक व्यवस्था करने को सरकार को सुप्रीम कोर्ट का आदेश।
25. सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को 5 एकड़ जमीन अयोध्या में ही दे सरकार।
26. सुनी वक़्फ़ बोर्ड को 3 माह के अंदर जमीन दे सरकार।
27. सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड जमीन मिलने के चरण बाद ही उसका मालिक होगा।
28. रामजन्म भूमि न्यास को 2.77 एकड़ विवादित जमीन दी गयी।
29. जमीन का कब्जा ट्रस्ट गठित कर उसे दे सरकार।
30. अयोध्या पर 3 माह में ट्रस्ट बनाये सरकार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *