कासिमाबाद गांधी जयंती गाजीपुर ताजातरीन राजनीति ग़ाज़ीपुर

गांधी जी के विचार आज भी प्रत्येक नागरिक के दिल एवं दिमाग में जिंदा हैं – अजय कुमार सिंह

 

कासिमाबाद: कासिमाबाद क्षेत्र के गोविंदपुर स्थित बाबा हरिद्वार कमला इंटर कॉलेज के प्रांगण में गांधी जयंती के अवसर पर शिक्षक संगोष्ठी का आयोजन किया गया । विद्यालय के प्रबंधक अजय कुमार सिंह ने ध्वजारोहण कर गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर नमन किया।
इस संगोष्ठी में विद्यालय के प्रधानाचार्य हृदय नारायण सिंह,धन्नजय जी,श्यामलाल यादव,दीक्षा सिंह ,सुमन सिंह,रामदुलार राम,सुनील यादव,जंगली राजभर, सिंहासन उपाध्याय इत्यादि अध्यापक गण एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

परमानंद मनोरमा देवी विद्यालय में प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए

कासिमाबाद क्षेत्र के इब्राहिमपुर कलां स्थित श्री परमानंद मनोरमा देवी महिला महाविद्यालय के प्रांगण में गांधी जयंती के अवसर पर महाविद्यालय के प्रबंधक श्री अजय कुमार सिंह ने महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उनके जीवन पर प्रकाश डाला।
श्री सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि दुनिया में ऐसे चंद लोग है जिनके विचारो एवं आदर्शो को अपनाया जाता है, गांधी जी इनमें से एक है जिन्हे राष्ट्रपिता और बापू के नाम से लोग पुकारते है। स्वतंत्रता संग्राम में महान योगदान और अपने कोमल विचारो के लिए आइंस्टीन जैसे महान वैज्ञानिक भी गांधी जी जैसे महान शख्सियत का लोहा मानते थे।
महात्मा गांधी के इन्हीं महान योगदान एवं विचारो के लिए आज के दिन पूरे विश्व में याद किया जाता है।
गांधी जी ने भारत को अंग्रेजों से मुक्त कराने में अहम भूमिका निभाई. सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने वाले थे। हमें बापू से ये सीखना चाहिए कि परिस्थिति चाहे कैसी भी हो, सत्य का मार्ग नहीं छोड़ना चाहिए. उन्होंने पूरे देश को बताया की हर लड़ाई खून खराबे से पूरी नहीं होती. लड़ाई अहिंसा का रास्ता अपनाकर भी लड़ी जा सकती है. चाहे वो देश को आजाद करवाने की लड़ाई ही क्यों न हो. महात्मा गांधी को विश्व पटल पर अहिंसा के प्रतीक के तौर पर जाना जाता है. दुनिया भर में हिंसा बढ़ती जा रही है, ऐसे में हमें बापू के संदेश को लोगों तक पहुंचाना चाहिए. बापू के विचारों को आगे बढ़ाकर हम हिंसक विचारधारा को रोक सकते हैं।
गांधी जी के इन्हीं विचारों और योगदान के लिए आज के दिन पूरे विश्व में याद किया जाता है।
इस अवसर पर एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी सतेंद्र नारायण सिंह,शैलेन्द्र कुमार,सविना , संतोष राय,खुशबू इत्यादि शिक्षक गण एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *