बाराचवर: हार्टमन इण्टर कालेज हार्टमनपुर में पौधारोपण माह के तृतीय दिवस पर पूर्व सांसद जगदीश कुशवाहा. गुलाब राम पूर्व जिलाध्यक्ष बसपा.रामाश्रय पूर्व जिलामंत्री विद्यालय में पधारे।प्रधानाचार्य फादर फेलिक्स राज द्वारा सभी का स्वागत किया गया।पूर्व सांसद जगदीश कुशवाहा ने फादर फेलिक्स राज को बधाई एवम शुभकामनाएं दी।सभी लोगों के द्वारा विद्यालय परिसर में चितवन.ढिठोरी.आंवला. गुलमोहर के पौधे लगाये गये।
इस अवसर पर अपने संबोधन में
जगदीश कुशवाहा पूर्व सांसद एवम संस्थापक एम जे आर पी स्कूल गाजीपुर ने बृक्षों की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा की एक वृक्ष सौ पुत्र के समान है। धरा को हरा-भरा रखने और पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए पौधरोपण और उनका संरक्षण बहुुत ही जरुरी है। इसलिए हम लोगों को एक-एक पौधा लगाने के लिए संकल्पित होना होगा।
उन्होंने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के साथ मानव जीवन पर मंडरा रहे संकट को दूर करने के लिए पौधरोपण करना जरूरी है।इस समय तो श्रावण मास चल रहा है जो भी व्यक्ति सोमवार के दिन, प्रदोष वाले दिन, शिवरात्री को, श्रावण मॉस में किसी भी दिन अथवा शिवयोग वाले दिन 5 या अधिक बिल्व वृक्षों का रोपण और उसका नियमित पालन भी करता है तो उसे शिवलोक प्राप्त होता है. यदि इन वृक्षों को कोई भी मनुष्य शिव मंदिर में या मंदिर के समीप रोपण करता है तो निश्चय ही वह कोटि कोटि पुण्य का भागीदार तो होता ही है और उसे व उसके परिवार पर भगवान शिव की असीम अनुकम्पा भी प्राप्त होती है।हर धर्म में बृक्षों वनस्पतियों को काफी महत्व दिया गया है।हर काल खण्ड में इनका उल्लेख मिलता है.त्रेतायुग में राजा जनक की वाटिका थी तो लंका में भी अशोक वाटिका थी।द्वापर में अर्जून का गांडीव भी शमी वृक्ष पर रक्खा जाता था।महात्मा बुद्ध को भी ज्ञान पीपल के वृक्ष के नीचे ही प्राप्त हुवा था।हमारा जीवन पूर्णतया बृक्षों पर आधारित है।हर धर्म काल खण्ड में इनकी उपयोगिता रही है और निःसंदेह इनकी उपयोगिता आगे भी रहेगी।
शास्त्रों में कहा गया है कि एक पेड़ दस पुत्रों के समान होता है। पेड़ लगाने के सुख बहुत होते हैं और पुण्य उससे भी अधिक। वृक्षों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने हेतु परिवार के प्रति व्यक्ति को हर अमावस्या पर एक-एक पौधा रोपण अवश्य ही करना चाहिए।इस अवसर पर प्रभाकरमणी त्रिपाठी. सी डी जान.राजेश कुशवाहा. दिनेश पाठक.अनिल मिश्रा.उदय कुमार. शुभनरायण यादव. सत्य प्रकाश. राकेश जोसफ.सत्येंद्र पाण्डेय. समेत अन्य लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here