ग़ाज़ीपुर : ब्रजभूषण दुबे ग़ाज़ीपुर का एक जाना माना नाम है जो समाजसेवा करने में अग्रणी हैं। सभी के साथ मेल मिलाप, सामाजिक मूल्यों का कर्तव्यवहन और समस्याओं की आवाज उठाते-उठाते खुद की वीडियोज को यूट्यूब पर डालने लगे। हालांकि बहुत पहके ही इन्होंने फेसबुक के फ्रेंड लॉस्ट 5000 की लिमिट को छू लिया था। इसका एक अलग ही इम्पैक्ट हुआ। क्षेत्रीय लोगों के साथ ही अब देश-विदेश के रहने वाले लोग भी यूट्यूब के माध्यम से इन्हें देखने लगे। खैर इसके साथ ही इनके फॉलोवर्स की संख्या लगातार बढ़ती गई और करीब 2 लाख 31 हजार सब्सक्राइबर्स के साथ इनके यूट्यूब चैनल पर 1200 के करीब वीडियोज है।

दृढ़ता के साथ कठिन परिश्रम का छोटा सा गिफ्ट है सिल्वर क्रिएटर अवॉर्ड- ( सुजैन वोजस्की c.E.O. यूट्यूब)- ब्रजभूषण दूबे को प्रेषित प्रशस्ति पत्र में यूट्यूब के. E.O. सुजैन ओजस्की ने लिखा है कि” हमें पता है कि आप यह सब कुछ पुरस्कार प्राप्ति के लिए नहीं करते बल्कि आपके अंदर एक सहज प्रवृत्ति है कुछ नया करने व लोगों से साझा करने की। आपको देखने सुनने वाले दर्शक हमेशा आपका ध्यान रखते हैं आपने ऐसा किया है जिसे बहुत कम यूट्यूबर पूरा कर पाते हैं। हम आपको आगे भी मजाक करते हुए देखना चाहते हैं।” भ्रष्टाचार उन्मूलन ,मानव अधिकार ,पर्यावरण संरक्षण ,शिक्षा ,चिकित्सा व लोक महत्व जैसे विषयों पर लगभग 12 सौ वीडियो कर चुके ब्रजभूषण दूबे ने कहा कि” लगभग डेढ़ से दो लाख लोग प्रतिदिन हमारा वीडियो न केवल देखते हैं बल्कि हमारा उत्साहवर्धन के साथ गलत होने पर सीख भी देते हैं। उन्होंने कहा कि भारत के अलावा अमेरिका, जापान ,इंग्लैंड ,ऑस्ट्रेलिया, इंडोनेशिया, संयुक्त अरब अमीरात, दुबई ,हालैंड ,सिंगापुर, मलेशिया सहित 140 देशों के लोग हमारे वीडियो देखते हैं और वे 1 साल के अंदर गोल्डन अवार्ड की पात्रता को प्राप्त कर लेंगे। उक्त अवसर पर कुंभ नाथ जायसवाल ,गुल्लू सिंह यादव ,अजित दूबे ,छात्र नेता विवेकानंद पांडे ,शिवानंद उपाध्याय, कमला यादव ,सच्चिदानंद पांडे ,राजन ओझा, प्रदीप कुमार चतुर्वेदी ,दिव्यांशु पांडे ;हसन अब्दुल्ला ,मोहम्मद साद शेख, नीरज राय, अजय शंकर लाल ,हनुमान बिन्द, बंशराज, शोभनाथ ,विवेक कुशवाहा ,जावेद अहमद, सत्येंद्र पांडे, मनोज तिवारी ,कैलाश बिन्द ,आदि लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here