मधुबनी। प0 चंपारण के धनहा थाना के समसरेवा से देवीपुर जाने वाली सड़क किनारे देवीपुर गाँव के पास एक शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मामला बुधवार की सुबह की है। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुँच शव को अपने कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्डम के लिया भेज दिया।मृत युवक की पहचान सेमरिया बैरवा टोला गांव निवासी कमल गोंड़ के पुत्र मोहन गोंड़ के रूप में हुई है।जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह देवीपुर गांव से 5 सौ मीटर पूर्व समसरेवा जाने वाली सड़क के किनारे खेत में शव पड़ा था। शव को देख ग्रामीणों ने पुलिस को फोन किया।ग्रामीणों के अनुसार मृत युवक मंगलवार के शाम यूपी के जुड़ी चौक पर शराब के नशे में था और सेमरिया गांव के ही राजेश यादव के टेक्टर पर सवार था। ग्रामीणों ने शंका जताया कि, युवक की मौत टेक्टर पर से गिरने के कारण हुआ है। वही घर वाले बता रहे हैं कि, मृत मोहन तीन चार लोगो के साथ दिनभर घर से गायब रहा। इस सम्बन्ध में थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि, शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्डम के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि, मृत युवक के के शरीर की स्थति देखकर प्रथम दृष्टया लगता है कि, टेक्टर ट्रॉली से गिरने से ही युवक की मौत हुई है। परन्तु पोस्टमार्डम से ही स्पष्ट पता चला पायेगा। वही मोहन गोंड़ के मरने से क्षेत्र गमगीन हो गया है। मृत मोहन मजदूरी करता था। उसके दो बच्चे है। पहला शंकर कुमार 12 वर्ष एवं दूसरा कुटूर कुमार 8 वर्ष।बच्चे अभी यह नहीं समझ पा रहे थे कि, उनके सर से पिता का साया हमेशा के लिए उठ गया है। मोहन के पत्नी गुलाबी देवी का रो रो कर बुरा हाल था। वह बार बार यह कहकर बेहोश हो जा रही थी की, अब हमनी के के सहारा होइ।मोहन 8 भाइयो में तीसरा नंबर का था।वह अपने माता पिता एवं भाइयो से अलग था। किसी तरह मजदूरी करके बच्चो का भरण पोषण करता था। उसके बहन नागवत्ती कुमारी का शादी इसी 27 जून को है। भाई को मृत देख बहन बेहोश हो जा रही थी। मोहन के पिता बीमार चल रहे हैं और माता का रो रो कर बुरा हाल है।क्षेत्र में सभी ग्रामीण यही कहकर रोने लगे कि, अब इन बच्चों का कौन सहारा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here