मजदूर किसान मंच ने चंदौली को पीएम गरीब कल्याण योजना में शामिल करने की उठाई मांग


Listen to this article

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान में चन्दौली को शामिल न करना दुखद -अजय राय
  • मजदूर किसान मंच ने चंदौली को शामिल करने की उठाई मांग, नहीं तो होगा राजनीतिक प्रतिवाद

चन्दौली: देश के सर्वाधिक पिछड़े जिलों में शामिल चंदौली जनपद को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना में शामिल न करने पर मजदूर किसान मंच के प्रभारी अजय राय ने दुख व्यक्त किया है.

प्रेस को जारी बयान में उन्होंने कहा है कि एक ऐसा जनपद जिसके बारे में नीति आयोग तक ने माना कि यहां भी कुपोषण है शिक्षा , स्वास्थ्य व रोजगार का अभाव है और यहां से बड़ी संख्या में मजदूर पलायन करते हैं. अकेले चन्दौली जनपद के की अति पिछड़ी आदिवासी बाहुल्य नौगढ़ तहसील से ही गाँवों से हजारों की संख्या में मजदूर रोजगार के अभाव में पलायन करके बाहर जाते है।

अब वापस कोरोना महामारी के कारण लगे लॉकडाउन के संकट में अपने घर लौटे हैं, जिनके पास न रोजगार है और ओलावृष्टि, भारी वर्षा आदि के कारण चन्दौली में इस बार खेती किसानी भी बर्बाद हो गई है. तब ऐसी स्थिति में इन मजदूर परिवारों के सामने आजीविका का बहुत बड़ा संकट पैदा हो गया है.

उनके परिवार रोजगार के अभाव में आने वाले दिनों में भुखमरी, कुपोषण के शिकार होंगे और नौगढ़ में अति गरीबी की स्थिति बढ़ेगी. इसलिए उन्होंने भारत सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार से मांग की है कि वह अपने फैसले पर पुनर्विचार करें और अति शीघ्र चंदौली जनपद को प्रधानमंत्री रोजगार कल्याण योजना के तहत लाए.

उन्होंने यह भी कहा की सरकार की चाहे जो भी घोषणाएं हो जमीनी सच्चाई यहीं है कि मनरेगा में लोगों को आवश्यकतानुसार कार्य का आवंटन नहीं हो रहा है. जिन लोगों ने काम किया है उनकी मजदूरी बकाया है और हद यह है कि बार-बार पत्रक लिखने और अनुरोध करने के बावजूद अभी तक हर गांव में जॉब कार्ड पर हाजिरी लगना भी शुरू नहीं हुआ है.

उन्होंने मांग की कि चन्दौली जनपद में मजदूरों को 200 दिन काम 15 दिन में मजदूरी का भुगतान और जाब कार्ड पर हाजिरी लगाने का कार्य प्रशासन करें अन्यथा अनलॉक के नियमों का पालन करते हुए मजदूर किसान मंच पूरे चन्दौली जनपद में राजनीतिक प्रतिवाद आयोजित करने के लिए बाध्य होगा।


चन्दन शर्मा

चन्दन शर्मा पिछले 4 सालों से भी अधिक समय से पत्रकारिता में लगे हुए हैं I वह निष्पक्ष पत्रकारिता के पक्षधर है और इसलिए इन्होने खुद का न्यूज़ पोर्टल "द सर्जिकल न्यूज़ डॉटकॉम " शुरू किया I इनका संपर्क सूत्र है [email protected] 9452818643