काश…..मासूमों की दुआ कबूल हो जाती


Listen to this article

गुवाहाटी (द सर्जिकल न्यूज़): कहते हैं बच्चे मन के सच्चे होते है, वो भगवान का रूप होते हैं। उनकी वाणी भगवान की वाणी उनकी इच्छा भगवान की इच्छा। कोरोना से पूरा देश जूझ रहा है लेकिन कुछ मासूम बच्चे जो रमजान में भूखे प्यासे रह रहे हैं। अल्लाह से पूरे विश्व की सलामती की दुआ मांग रहे हैं।

गुवाहाटी में रहने वाले मासूम बच्चे 25 तारीख से रमजान का पवित्र माह चल रहा है उसके बाद से लगतार यह बच्चे पूरी दुनिया सहित हिंदुस्तान की सलामती के लिए अल्लाह से दुवाएं मांग रहे हैं।ये बच्चे हैं नुमान रजा (7), अहमद रजा (6), आफिया शाबरीन (7), आलोय खानम (6)नुमान रज़ा(7), अहमद रज़ा (6), आफिया शाबरीन (7), आलिया खानम (6), मु0 रैयान वारिश ख़ाँ (5), ईक़रा खातून (7), फैज़ान रज़ा (10), मु0 जीशान ख़ान(11), जिलानी रज़ा (12), जिशान रज़ा (6), एकरार खाँ।

मो0 आज़ाद खान राजपूत ने हमे कॉल करके बताया कि जहां पूरी दुनिया कोरोना की चपेट में हैं वहीं ये बच्चे भी यह सब देखकर रोज अल्लाह से प्रार्थना करते हैं। बच्चे चाहते हैं जल्द से जल्द हमारे हिंदुस्तान सहित पूरी दुनिया को इस महामारी से छुटकारा मिल जाए।


चन्दन शर्मा

चन्दन शर्मा पिछले 4 सालों से भी अधिक समय से पत्रकारिता में लगे हुए हैं I वह निष्पक्ष पत्रकारिता के पक्षधर है और इसलिए इन्होने खुद का न्यूज़ पोर्टल "द सर्जिकल न्यूज़ डॉटकॉम " शुरू किया I इनका संपर्क सूत्र है [email protected] 9452818643